ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाएं तैयार कर रही पवित्र रक्षा सूत्र

श्यामपुर की न्याय पंचायत ग्राम सभा खदरी खड़क माफ के अंतर्गत चोपड़ा फार्म,भागीरथीपुरम, गुलजार फार्म, लक्कड़ घाट की स्वयं सहायता समूह की महिलाएं इन दिनों रक्षाबंधन के पावन पर्व के आगमन पर राखियां बनाने की तैयारियां में जुटी हुई है।

ग्राम सभा खदरी खड़क माफ की सभी स्वयं सहायता समूह विकासखंड ब्लाक डोईवाला में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत पंजीकृत है। स्वयं सहायता समूह की महिलाएं इन दिनों आत्मनिर्भर भारत को बढ़ावा देने के लिए रंग बिरंगी राखियां की तैयारी में जुटी हुई है। जैसे-जैसे कोई भी पावन पर्व नजदीक आता है वैसे-वैसे स्वयं सहायता समूहो की महिलाएं स्वाबलंबी व खुद को आत्मनिर्भ होकर अपने कार्य में जुट जाती है। राखियां बनाने में मां वैष्णवी स्वयं सहायता समूह,मां ज्वालपा स्वयं सहायता समूह ,दुर्गा शक्ति स्वयं सहायता समूह के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में राखियां बनाई जा रही है। सामाजिक कार्यकर्ता नवीन नेगी ने कहा महिलाएं किसी भी क्षेत्र में कमजोर नहीं है बस महिलाओं को अपने हुनर और काबिलियत दिखाने की जरूरत है। स्वयं सहायता समूह के द्वारा महिलाएं स्वाबलंबी व स्वदेशी वस्तुओं को भी बढ़ावा दे रही हैं वह आत्मनिर्भरता के सपने को साकार करने में लगी हुए हैं।

क्षेत्र पंचायत सदस्य बीना चैहान ने बताया विगत माह पूर्व महिलाओं का स्वयं सहायता समूह बनाया गया था, जिसके पश्चात महिलाएं आजकल घर में रह कर रंग- बिरंगी राखीयां बना रही है, जो राखीयं स्वयं सहायता महिलाओं के द्वारा बनाए गए हैं वह ग्रामीण क्षेत्र के मार्केट में बेचेगी जिससे महिलाओं के लिए स्वरोजगार के साधन भी उपलब्ध होंगे।

मौके पर उपस्थित क्षेत्र पंचायत सदस्य बीना चैहान, विनोद चैहान, समाजसेवी नवीन नेगी, अनिल रावत, अनूप रावत, वार्ड मेंबर लक्ष्मण राणा ,ईशा कलूड़ा ममता राणा, मंजू पेटवाल, कमला देवी, गायत्री रावत, गीता देवी, कलावती देवी आदि रहे।