एकीकरण को लेकर प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल के पास शुक्रवार तक का समय

ऋषिकेश के व्यापार मण्डलों के एकीकरण को लेकर आज शहर के व्यापारियों की एक आपातकालीन बैठक हुई। इसमें प्रांतीय उद्योग व्यापार मण्डल के जिलाध्यक्ष नरेश अग्रवाल व प्रांतीय नेता श्रवण जैन भी शामिल हुए। बैठक में प्रांतीय उघोग व्यापार मण्डल को एकीकरण के लिए शुक्रवार तक का समय दिया गया। जवाब न आने पर व्यापार मंडल एका संयोजक मंडलों की बैठक कर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।

बैठक की अध्यक्षता कर वरिष्ठ व्यापारी राजीव मोहन अग्रवाल ने बताया कि व्यापारियों के कुछ सुझाव आये है जो प्रांतीय उद्योग व्यापार मण्डल के प्रतिनिधियों के समक्ष रखे गये हैं। इसके तहत महानगर में एक व्यापार मण्डल हो और जिसका नाम ऋषिकेश व्यापार महासंघ हो, जिसमें किसी भी अन्य संस्था या राजनीतिक दल का हस्तक्षेप नहीं होगा और ऋषिकेश व्यापार महासंघ के नाम पर ही महानगर में सदस्यता अभियान चलाया जाए। इसी में व्यापार मण्डलों के सदस्यों को सदस्य बनाया जाए व पूर्व में भी जो अन्य किसी व्यापारिक संगठन से सदस्यता हुई हो उसे भी महासंघ के नाम पर जोड़ा जाए।

ऋषिकेश के सभी व्यापार मण्डल महासंघ को महानगर स्तर पर अपना समर्थन देंगे परन्तु जिला व प्रदेश स्तर पर वह अपनी संस्थाओं को यथावत रहकर कार्य कर सकते हैं। ऋषिकेश के व्यापारियों के अध्यक्ष व महामंत्री के चुनाव हेतु जो भी चुनाव समिति बनेगी। उस समिति या कमेटी में सिर्फ व सिर्फ ऋषिकेश के शीर्ष व्यापारी ही चुनाव अधिकारी होने चाहिये। बाहर के प्रांत के व प्रदेश के अन्य किसी व्यक्ति का हस्तक्षेप चुनाव में नहीं होना चाहिये। भविष्य में महासंघ का विलय किसी भी संस्था या या दल में नहीं होगा। महासंघ का अध्यक्ष व महामंत्री आम सदस्यों के चुनाव द्वारा चुना जाना चाहिये।

प्रदेश उद्योग व्यापार मण्डल के नगर अध्यक्ष पंकज गुप्ता ने कहा कि हमारे व्यापार मण्डल की व्यापारियों की ओर से आये सभी सुझावों पर हमारी सहमति है, हम मिलकर एक स्वतंत्र ऋषिकेश महानगर के व्यापार महासंघ को तैयार हैं।

प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष नरेश अग्रवाल व प्रदेश मंत्री श्रवण जैन ने कहा कि एकीकरण की पहल तो ऋषिकेश के व्यापारियों के हित में है।

जिलाध्यक्ष नरेश अग्रवाल ने कहा कि व्यापारियों के सुझावों का हम स्वागत करते हैं परन्तु प्रांतीय व्यापार मण्डल देश स्तर का संगठन है तो पहले हम प्रदेश स्तर पर वार्ता कर विचार विमर्श कर, महासंघ के प्रतिनिधियों को गुरूवार दोपहर तक सूचित करेंगे।

बैठक का संचालन करते हुऐ जयेन्द्र रमोला ने कहा कि आज की वार्ता बहुत ही सौहार्दपूर्ण वातावरण में सम्पन्न हुई और अगर कल सब कुछ अच्छा रहा तो दोनों व्यापार मण्डल मिलकर महानगर के व्यापारियों की एक महापंचायत का आयोजन कर व्यापारियों की रॉय के साथ आगे की चर्चा करेंगे और अगर प्रांतीय उद्योग व्यापार मण्डल की ओर से एकाकरण का जवाब नहीं आता है तो शुक्रवार को व्यापार मण्डल एका संयोजक मण्डलों की बैठक कर आगे का निर्णय लिया जायेगा।

बैठक में यह रहे शामिल
बैठक में प्रॉपर्टी डेवलपर्स के अध्यक्ष अजय गर्ग, व्यापार सभा के अध्यक्ष मनोज कालडा, व्यापार सभा के पूर्व अध्यक्ष नवल कपूर, परचून ट्रांसपोर्ट व्यापार मण्डल के अध्यक्ष विनोद शर्मा,होटल एसोशिएशन के अध्यक्ष मदन नागपाल,प्रदेश उघोग व्यापर मण्डल की ओर से संरक्षक कपिल गुप्ता, केवल कृष्ण लाम्बा, क्लॉथ मर्चेन्ट के महामंत्री प्रदीप गुप्ता, मनोज सेठी, दीपक जाटव, हर्षित गुप्ता, विवेक वर्मा, मेन बाजार व्यापार संगठन महामंत्री ललित सक्सेना उपस्थित थे।