नीरजा ऐसे लोगों के लिए उदाहरण, जो संपन्न होने के बाद भी दरियादिल नहींः सुबोध उनियाल

नीरजा देवभूमि चैरिटेबल ट्रस्ट की ओर से आयोजित दो दिवसीय न्यूरो थेरेपी व स्वास्थ्य जांच शिविर का आज समापन हो गया। समापन दिवस पर कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने स्वास्थ्य की जांच कर रही टीम को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

लक्ष्मण झूला रोड स्थित कबीर चैरा में आयोजित शिविर में मायाकुंड, चंद्रेश्वर नगर, शीशम झाड़ी 14 बीघा आदि जगहों से 110 लोगो ने रजिस्ट्रेशन कराया। जिनकी निशुल्क न्यूरो थेरेपी और रक्त जांच की गई।

दूसरे दिन शिविर का शुभारंभ कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल, कबीर चैरा आश्रम के महंत कपिल मुनि ने संयुक्त रुप से दीप प्रज्वलित कर किया। कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि नीरजा गोयल ऐसे लोगो के लिए उदाहरण है जो सम्पन्न होने के बाद भी दरियादिल नहीं होते। नीरजा से ऐसे लोगो को सीख लेनी चाहिए। उन्होंने चिकित्सक की टीम को बिना दवाई उपचार करने पर बधाई दी। कहा कि मानव सेवा से बड़ा कोई धर्म नहीं है, जिसे नीरजा ट्रस्ट बखूबी निभा रहा है। उन्होंने नीरजा गोयल को सामाजिक कार्यो के लिए धन्यवाद दिया। इस मौके कैबिनेट मंत्री ने स्वास्थ्य की जांच कर रही टीम को प्रमाण पत्र भी दिए गए।

महंत कपिल मुनि ने कहा कि जरूरत मंद लोगों के लिए समय समय पर ऐसे स्वास्थ्य जांच शिविर लगाये जाने चाहिए। जिससे निर्धन वर्ग को लाभ मिलता है, साथ ही मानव सेवा करने का मौका भी मिलता है।

ट्रस्ट संस्थापक नीरजा गोयल ने कहा कि स्वास्थ्य शिविर का यह पहला आयोजन था। उन्होंने इसकी सफलता को देखते हुए पुनः स्वास्थ्य शिविर लगाए जाने की घोषणा की। मौके ओर उन्होंने निराश्रित गौवंश के लिए भी काम करने की बात भी कही।

न्यूरो थैरेपिस्ट देवेंद्र आहुजा ने लोगो को मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के टिप्स दिए। मौके पर मोटापे, गैस की दिक्कत, माइग्रेन की दिक्कत, जोड़ों के दर्द, कमर दर्द आदि की थेरेपी की गई। उन्होंने थेरेपी कराने पहुंचे लाभार्थियों को मांसाहार का उपयोग खाने में ना करने की भी सलाह दी।

डॉक्टर सुनील थपलियाल के संचालन में आयोजित शिविर में ट्रस्ट सह संस्थापक नूपुर गोयल, वरुण जैन, डीपी रतूड़ी, रवि जैन, स्पर्श गंगा अभियान की सदस्य सरोज डिमरी, व्यापारी नेता पंकज गुप्ता, भाजपा नेता कपिल गुप्ता, हैप्पी सेमवाल, भूपेंद्र राणा, बीना जोशी, गीता मित्तल, बलराम शाह, मनोज गुप्ता, शाकुंतला व्यास, हरीश आनंद, संतोष व्यास, कमल चतुर्वेदी, सुभाष, आशु, ध्रुव, दिवाकर मिश्रा, भावना सिंधी, अन्नू आदि मौजूद रहे।